अंतर्राष्ट्रीयदुनिया

श्रीलंका में आर्थिक संकट गहराने से मचा हाहाकार’: दवाएं मिल नहीं रहीं, जरूरी सामान चार गुने महंगे हुए, तेल-गैस के लिए घंटों लाइन में लगे लोग दम तोड़ रहे

श्रीलंका में आर्थिक संकट गहराने से मचा हाहाकार': दवाएं मिल नहीं रहीं, जरूरी सामान चार गुने महंगे हुए, तेल-गैस के लिए घंटों लाइन में लगे लोग दम तोड़ रहे


भारत का दक्षिणी पड़ोसी देश श्रीलंका अपनी आजादी के बाद से अब तक का सबसे गंभीर आर्थिक संकट झेल रहा है। महंगाई दर 17% के पार पहुंच चुकी है। लोग पेट्रोल, रसोई गैस, केरोसिन खरीदने के लिए घंटों लाइनों में लगने को मजबूर हैं और दम तोड़ रहे हैं। भारत पर भी इसका दबाव बढ़ रहा है। इस बदहाली के लिए वहां के लोग सरकार की भ्रष्ट नीतियों को जिम्मेदार मान रहे हैं। लोगों का कहना है कि दो साल के भीतर हालात बिगड़े हैं।
रमेश मारिया (बदला हुआ नाम) रिटायर्ड हैं और श्रीलंका की राजधानी कोलंबो के एक पॉश इलाके में रहते हैं।

श्रीलंका के मौजूदा आर्थिक हालात ने उनके लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। उनकी दवाएं आसानी से नहीं मिल रही हैं, जो मिल भी रही हैं उनकी कीमत दोगुनी से ज्यादा हो गई है।
श्रीलंका इस समय अभूतपूर्व आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। यहां खाने-पीने की चीजों के दाम आसमान पर हैं। स्थानीय लोगों के मुताबिक उनके लिए एक कप चाय तक पीना मुश्किल हो गया है।

Related Articles

Back to top button
Close